स्ट्रेच मार्क्स हटाने के 10 घरेलू नुस्खे

स्ट्रेच मार्क्स स्किन पर होने वाले सफेद खिंचाव के निशान होते हैं, जिनका कलर बदरंग होने के कारण यह साफ-साफ दिखाई देते हैं। स्ट्रेच मार्क्स ज्यादातर पेट, कमर, जांघ, कन्धों, स्तनों और कूल्हों पर होते हैं।

स्ट्रेच मार्क्स होने सबसे मुख्य कारण

प्रेगनेंसी , जिसके कारण पेट की स्किन काफी स्ट्रेच होती है और बाद में अपनी नार्मल अवस्था में आने पर स्ट्रेच मार्क्स बनने लगते हैं। स्ट्रेच मार्क्स होने के अन्य कारण हैं - अचानक वजन बढ़ना या घटना, शरीर की तेजी से ग्रोथ होना, तनाव, फिजिकल कंडीशन में बदलाव और अनुवांसिक कारण

हमारी स्किन में तीन मुख्य परत होती हैं - एपिडर्मिस (ऊपरी परत), डर्मिस (बीच की परत) और हाइपोडर्मिक (नीचे की परत)। स्ट्रेच मार्क्स स्किन के बीच की डर्मिस परत में बनते है। जब डर्मिस परत में मौजूद कनेक्टिव टिश्युओं को अपनी क्षमता से अधिक स्ट्रेच किया जाता है तो यह अपनी फ्लेक्सिबिटी खो देते हैं और स्ट्रेच मार्क्स बनने लगते हैं।

साथ ही, स्किन के स्ट्रेच हो जाने के कारण कोलेजन प्रोटीन कमजोर हो जाता है और स्किन का नार्मल प्रोडक्शन साइकिल बाधित होने लगता है। इसके फलस्वरूप स्किन पर गहरे निशान बनने लगते हैं। शुरुआत

में यह मार्क्स गुलाबी या लाल रंग के दिखाई देते हैं, लेकिन समय के साथ-साथ इनका रंग पतले सिल्वर जैसा हो जाता है और स्ट्रेच मार्क्स का जन्म होता है।

स्ट्रेच मार्क्स स्किन की सरफेस पर तब बनते हैं जब यह स्किन गर्भावस्था के कारण, तेजी से वजन घटने या बढ़ने के कारण, या अन्य कारणों से कम समय में तेजी से स्ट्रेच होती है।

चूंकि स्ट्रेच मार्क्स काफी भद्दे दिखाई देते हैं जो आपके लुक को काफी बिगाड़ सकते हैं। इसलिए सभी इनसे जल्दी से जल्दी छुटकारा पाना चाहते हैं। सौभाग्य से ऐसे कई घरेलू उपचार मौजूद हैं जिनको अपनाकर स्ट्रेच मार्क्स से जल्दी छुटकारा पाया जा सकता है।

स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के 10 सबसे कारगर घरेलू उपचार

स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए अरंडी का तेल लगायें (Castor Oil)

अरंडी के तेल को कई स्किन प्रॉब्लम्स जैसे मुंहासे, झुर्रियां, डार्क सर्कल्स, फाइन लाइन्स आदि के उपचार में इस्तेमाल किया जाता है। यह स्ट्रेच मार्क्स को हटाने में भी काफी मदद करती है।

  • स्ट्रेच मार्क्स पर थोड़ा सा अरंडी का तेल लगायें और हल्के-हल्के सर्कुलर मोशन में मालिश करें। ऐसा 5-10 मिनट के लिए करें।
  • अब साफ कपड़े या रुई से इसे पोंछ लें और फिर हॉट वाटर बोतल या हीटिंग पैड से स्ट्रेच मार्क्स को सेंकें। ऐसा डेढ़ घंटे के लिए करें।
  • इस उपचार को रोज करें। एक महीने के अन्दर ही आपको फायदा नजर आने लगेगा।

एलोवेरा (Aloe Vera)

एलोवेरा को कई स्किन प्रॉब्लम्स ठीक करने में इस्तेमाल किया जाता है। इसमें हीलिंग और सूथिंग प्रॉपर्टीज होती हैं जो स्ट्रेच मार्क्स हटाने में मदद करती हैं। एलोवेरा को आप नीचे दिए गए दो तरीकों से इस्तेमाल कर सकते हैं -

  • आप सीधे प्रभावित क्षेत्र में एलोवेरा जेल को लगा सकते हैं, लगाने के बाद इसे 15 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर गर्म पानी से धो लें।
  • या फिर, एक चौथाई कप एलोवेरा जेल में 10 विटामिन E के कैप्सूल से निकला आयल और 10 विटामिन A निकले आयल को मिला दें। अब इसे स्किन पर लगायें और तब तक रब करें जब तक की स्किन इसे पूरी से सोख न ले। इस उपचार को रोज करें।

एग वाइट (Egg Whites)

एग वाइट अंडे के अंदर मौजूद सफेद हिस्सा होता है, जिसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन और एमिनो एसिड्स पाए जाते हैं। स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए एग वाइट काफी लाभकारी होता है।

  • दो अंडों के सफेद हिस्से को छोटे चाकू से बाहर निकाल लें। अब स्ट्रेच मार्क्स वाली स्किन को अच्छे से धो लें और एग वाइट की एक मोटी परत लगा लें।
  • अब इसे सूखने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।
  • इसके बाद स्किन पर जैतून का तेल लगायें जिससे उसमें नमी बनी रहे।
  • कम से कम दो हफ़्तों के लिए इस उपचार को रोज करें।

नींबू का रस (Lemon Juice)

स्ट्रेच मार्क्स कम करने में नींबू के रस का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। नींबू का रस प्राकृतिक रूप से एसिडिक होता है और स्किन से स्ट्रेच मार्क्स, मुंहासे, दाग धब्बे आदि हटाने में मदद करता है।

  • एक ताजा नींबू को दो भागों में काट लें और स्ट्रेच मार्क्स पर सर्कुलर मोशन में रब करें। अब इसे मिनट के लिए छोड़ दें जिससे स्किन नींबू के रस को अच्छी तरह से सोख सके। फिर इसे गर्म पानी से धो लें।
  • या फिर, समान मात्रा में खीरा के रस और नींबू के रस को मिलाकर स्ट्रेच मार्क्स पर लगायें।

शुगर (Sugar)

स्ट्रेच मार्क्स हटाने में नेचुरल वाइट शुगर सबसे कारगर घरेलू नुस्खों में से एक है। आप अपनी स्किन को exfoliate करने के लिए शुगर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • दो चम्मच शुगर में थोड़ा सा बादाम का तेल और कुछ बूंदें नींबू के रस की मिलाएं। अब इसे अच्छी तरह से मिलाकर स्ट्रेच मार्क्स और अन्य स्किन एरिया पर लगायें और धीरे-धीरे स्क्रब करें। रोज नहाने से पहले इस उपचार को करने से धीरे-धीरे स्ट्रेच मार्क्स खत्म हो जाते हैं।
  • फायदा नजर आने के लिए इस उपचार को कम से कम एक महीने के लिए रोज करें।

आलू का रस (Potato Juice)

आलू के रस में विटामिन्स और मिनरल्स पाए जाते हैं जो स्किन की ग्रोथ और मरम्मत की प्रक्रिया को बढ़ाते हैं।

  • एक मीडियम-साइज आलू को मोटे स्लाइसेस में काट लें।
  • अब एक आलू के स्लाइस को लें और स्ट्रेच मार्क्स पर कुछ मिनट्स के लिए रब करें।
  • अब इसे सूखने दें और फिर गर्म पानी से धो लें।

अल्फाल्फा (Alfalfa)

अल्फाल्फा की पत्तियों में आठ आवश्यक एमिनो एसिड्स पाई जाती हैं जो स्किन की ओवरआल हेल्थ के लिए अच्छी होती हैं। इनमें प्रोटीन, विटामिन A और K भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो स्किन को पोषण प्रदान करने में मदद करते हैं।

  • थोड़े से अल्फाल्फा के पाउडर में कैमोमाइल आयल डालकर पेस्ट तैयार करें।
  • रोज दिन में दो या तीन बार इस पेस्ट से स्ट्रेच मार्क्स पर मालिश करें।
  • इस उपचार को कुछ हफ़्तों के लिए रोज करें।

कोको बटर (Cocoa Butter)

स्ट्रेच मार्क्स के ट्रीटमेंट में कोको बटर भी लाभकारी होता है। यह काफी अच्छा नेचुरल मॉइस्चराइजर होता है, जो स्किन को पोषण प्रदान करने में मदद करता है और स्ट्रेच मार्क्स को कम करता है।

  • रोज सुबह-शाम कोको बटर को स्ट्रेच मार्क्स पर लगायें। ऐसा लगातार एक महीने के लिए रोज करें।
  • या फिर, आधे कप कोको बटर में डेढ़ चम्मच गेहूं के बीज का तेल (wheat germ oil), दो चम्मच मोम और एक विटामिन ई आयल मिलाएं। अब इस मिश्रण को गर्म करें, जब तक कि मोम पूरी तरह से न पिघल जाये। अब इसे एक एयर-टाइट शीशी में भरकर रख दें और रोज दिन में तीन बार अपने स्ट्रेच मार्क्स पर लगायें।

जैतून का तेल (Olive Oil)

जैतून के तेल में बहुत सारे पोषक तत्व और एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो स्ट्रेच मार्क्स हटाने में मदद करते हैं और कई सारी स्किन प्रॉब्लम्स को दूर करते हैं।

  • एक्स्ट्रा-वर्जिन जैतून के तेल को गर्म करके स्ट्रेच मार्क्स पर लगायें और दो घंटे के लिए छोड़ दें। ऐसा करने से आयल में मौजूद विटामिन A, D और E को स्किन अच्छी तरह से सोख लेती है। यह उपचार करने से स्किन में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ेगा और बहुत हद तक स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने में मदद मिलेगी।
  • जैतून के तेल में विनेगर (सिरका) और पानी मिलाएं और रात को सोने से पहले लगायें। ऐसा करने से स्किन में नमी बनी रहेगी और धीरे-धीरे स्ट्रेच मार्क्स की स्किन exfoliate हो जायेगी।

पानी (Water)

शरीर को हाइड्रेटेड रखने से कई स्किन प्रॉब्लम्स से बचा जा सकता है। पानी शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है और स्किन में इलास्टिसिटी बनाये रखने में मदद करता है।

रोज कम से कम 8-10 गिलास पानी का सेवन करें। लेकिन ध्यान रखें, एकदम से अत्यधिक पानी का सेवन न करें बल्कि इसे बार-बार थोड़ी-थोड़ी मात्रा में सेवन करें।

साथ ही, बार-बार कॉफ़ी, चाय या सोडा का सेवन न करें।

ऊपर दिए गए उपचार स्ट्रेच मार्क्स को धीरे-धीरे हल्का करके हटाने में मदद करेंगे। लेकिन इसके लिए आपको धैर्य रखना होगा और इन उपचारों को नियमित अपनाना होगा।