एलोवेरा के 10 स्वास्थ्य फायदे

एलो वेरा के स्वास्थ्य के लिए कई उपचारात्मक फायदे होने के कारण इसे चमत्कारी औषधि की तरह माना जाता है। एलोवेरा की पत्तियों के जेल में विटामिन ए, बी1, बी2, बी3, बी6, बी12, सी, ई और फोलिक एसिड पायी जाती है।

एलोवेरा के रस में पाए जाने वाले मिनरल्स निम्न हैं - कॉपर (copper), आयरन (iron), सोडियम (sodium), कैल्शियम (calcium), जिंक (zinc) पोटैशियम (potassium), क्रोमियम (chromium), मैग्नीशियम (magnesium) और मैंगनीज (manganese). यह सभी मिनरल्स शरीर के स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होते हैं।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ इसे प्रकृति का सबसे प्रभावशाली और बहुमुखी हर्ब मानते हैं। इस हर्ब को externally (बाहर से लगाकर) या internally (सेवन करके) इस्तेमाल किया जा सकता है । पूरी दुनिया में एलोवेरा को छोटी से छोटी बीमारी (जैसे माइनर बर्न्स) से लेकर बड़ी से बड़ी बीमारी (जैसे कैंसर) तक के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है।

यहाँ पर एलोवेरा के स्वास्थ्य के लिए 10 सबसे बेस्ट फायदे दिए जा रहे हैं -

1. रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है (Immune Booster)

एलोवेरा में भरपूर एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो प्राकृतिक रूप से शरीर की रोग प्रतिरोधक को बढ़ाते हैं, जिससे शरीर को फ्री रेडिकल्स से लड़ने में मदद मिलती है। फ्री रेडिकल्स अनस्टेबल कंपाउंड्स होते हैं जो शरीर के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाते हैं और उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को तेज कर देते हैं।

नियमित एलोवेरा के जूस का सेवन करने से शरीर को पर्याप्त एंटीऑक्सीडेंट्स मिलते हैं जिससे इम्युनिटी पॉवर बढ़ती है।

2. स्किन को हेल्थी बनाता है (Enhances Skin Health)

नेचुरल स्किन केयर प्रोडक्ट्स में एलोवेरा का काफी इस्तेमाल होता है, क्योंकि यह स्किन को पोषण प्रदान करता है, उसे हाइड्रेटेड रखता है और नए स्किन टिश्यू की रिजनरेशन प्रक्रिया को बढ़ाता है। अपने चेहरे और त्वचा पर रोज ताजा एलोवेरा का रस लगाने से स्किन well moisturized, चमकदार (glowing) और दोषरहित (flawless) रहती है।

साथ ही एलोवेरा को कई स्किन प्रॉब्लम जैसे सनबर्न (या स्किन टैनिंग), फफोले (blisters), दंश (insect bites), एलर्जिक रिएक्शन माइनर बर्न, इन्फ्लामेशन आदि के उपचार में भी फायदेमंद माना जाता है। यहाँ तक कि एलोवेरा को सेंसिटिव स्किन पर भी बेझिझक इस्तेमाल किया जा सकता है।

3. वजन और ऊर्जा स्तर को नियंत्रित करता है (Regulates Weight and Energy Level)

एलोवेरा जूस को पीने से पाचन तंत्र (digestive system) की प्राकृतिक रूप से सफाई होती है। कई खाद्य पदार्थों के सेवन से थकान और आलस्य महसूस होता है जिसे आप एलोवेरा जूस के सेवन से ठीक कर सकते हैं।

एलोवेरा जूस का नियमित सेवन करने से शरीर का एनर्जी लेवल बढ़ता है और मोटापा कम करने में मदद मिलती है

4. मसूड़ों की बीमारियाँ ठीक करता है (Cures Gum Disease)

एलोवेरा में एंटीबैक्टीरियल और एंटीमाइक्रोबियल प्रॉपर्टीज होने के कारण यह मसूड़ों और मुंह के स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसमें मिनरल्स और विटामिन्स होते हैं जो सेल ग्रोथ को बढ़ाते हैं और खून बहते मसूड़ों (bleeding gums) और मुंह के छालों (mouth ulcers) को ठीक करते हैं।

यदि आपको मसूड़ों में कोई बीमारी हो तो रोज एलोवेरा जूस को मसूड़ों पर लगायें। आप अपने टूथपेस्ट में एलोवेरा जूस या पाउडर को मिलाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। रोजाना एलोवेरा जूस का सेवन करने से भी मसूड़े और दांत स्वस्थ रहते हैं।

5. कब्ज को ठीक करता है (Ends Constipation)

एलोवेरा जूस में नेचुरल फाइबर होता है जो पाचन (digestion) और मल त्याग (bowel movements) को सुधारता है। नेचुरल लैक्सेटिव (laxative) होने के कारण, एलोवेरा का कब्ज के इलाज में भी उपयोग किया जाता है।

कब्ज होने पर रोज कम से कम 50 gm एलोवेरा जूस का सेवन करें। ध्यान रखें, एलोवेरा जूस लेने के बाद इसका पॉजिटिव रिजल्ट दिखाई देने में 9 से 10 घंटे लग सकते हैं।

6. इन्फ्लामेशन को कम करता है

एलोवेरा को बाहर से इस्तेमाल करके जोड़ों के इन्फ्लामेशन और गठिया के दर्द (arthritis pain) को कम किया जा सकता है। बॉडी के इन्फ्लामेशन को कम करने के लिए आप एलोवेरा जूस का सेवन भी कर सकते हैं। अक्सर जो लोग लगातार 15 दिनों के लिए रोज एलोवेरा जूस का सेवन करते हैं उनके शरीर में इन्फ्लामेशन और दर्द में काफी कमी देखि जाती है।

एलोवेरा जूस में एंटी-इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होने के कारण इसे अल्सरेटिव कोलाइटिस (बड़ी आंत की प्रदाहक एवं व्रणग्रस्‍त अवस्‍था) में भी काफी फायदेमंद माना जाता है।

7. मुंहासे ठीक करता है (Treats Acne)

मुंहासे के साथ-साथ कई और अन्य स्किन प्रॉब्लम्स को ठीक करने के लिए नेचुरल स्किन केयर प्रोडक्ट्स में एलोवेरा का काफी इस्तेमाल होता है।

मुंहासे होना काफी आम समस्या है। यह तब होते हैं जब वसामय ग्रंथियाँ (sebaceous glands) ज्यादा एक्टिव हो जाती हैं और ज्यादा आयल उत्पादित करने लगती हैं। यह आयल डेड स्किन सेल्स, धूल और बैक्टीरिया के साथ मिलकर स्किन को ब्लाक करने लगता है, इन्फ्लामेशन को बढ़ा देता है और चेहरे पर मुंहासे पैदा देता है।

एलोवेरा में एंटी-इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं जो मुंहासे ठीक करने में मदद करती हैं। रोज दो बार एलोवेरा जूस को affected area में लगायें। आप एलोवेरा स्किन केयर प्रोडक्ट्स जैसे क्रीम, फेसवाश आदि का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

8. बालों को मुलायम और चमकदार बनता है

एलोवेरा में emollient और moisturizing properties होती हैं जो बालों को मुलायम और चमकदार बनाने में मदद करती हैं। यहाँ तक कि यह बालों के pH बैलेंस को भी ठीक रखने में मदद करता है।

साथ ही, एलोवेरा में भरपूर पोषक तत्व होते हैं जो हेयर ग्रोथ को बढ़ावा देते हैं। यह बालों को झड़ने से रोकते हैं, सिर की खुजली को कम करते हैं और डेंड्रफ (रूसी) को ठीक करते हैं

  • दो ताजा एलोवेरा की पत्तियों को तोड़कर उनका जेल निकाल लें।
  • अब इसमें आधा नींबू निचोड़ लें और मिक्सिंग मशीन में मिक्स कर लें।
  • अब इसे उँगलियों से अपने बालों पर जड़ों तक लगा लें।
  • अब अपने सिर को एक टॉवल से 15-20 मिनट के लिए बांधे रखें।
  • फिर अपने बालों पर आयुर्वेदिक शम्पूर लगाकर गर्म पानी से धो लें।
  • इस उपचार को हफ्ते में एक बार करें।

9. रक्त के शुगर लेवल को स्थिर करता है (Stabilizes Blood Sugar Level)

एलोवेरा जूस ब्लड के शुगर लेवल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में मदद करता है, जिससे टाइप 2 डायबिटीज को मेन्टेन करने में मदद करती है। अच्छे रिजल्ट पाने के लिए लगातार तीन महीने तक रोज एलोवेरा जूस का सेवन करें।

साथ ही, एलोवेरा के सप्लीमेंट डायबिटीज के कारण होने वाली परिधीय न्यूरोपैथी (हाथ पैर सुन्न पड़ना) की समस्या को ठीक करने में मदद करते हैं।

10. हाई कोलेस्ट्रॉल को कम करता है (Lowers High Cholesterol)

हाल ही में हुए कुछ शोधों से यह पता चला है कि एलोवेरा जेल हाई कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी मदद करता है। इसका सेवन करने से रक्त साफ होता है और उसका संचार ठीक होता है।

जर्नल ऑफ न्यूट्रीशनल साइंस एंड विटामिनोलोजी में पब्लिश हुई एक स्टडी के अनुसार एलोवेरा के सप्लीमेंट का नियमित सेवन करने से लिवर में कोलेस्ट्रॉल का प्रोडक्शन 30 परसेंट तक कम हो जाता है। एलोवेरा सप्लीमेंट के डोज, रक्त में कोलेस्ट्रॉल के लेवल पर निर्भर करते हैं, इसलिए अपने लिए इसके सही डोज जानने के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

एलोवेरा में स्वास्थ्य के लिए इतने सारे फायदे होने के कारण इसे अपने नियमित खानपान में शामिल करना काफी लाभकारी होता है। यह आपको कई गंभीर बिमारियों से बचाएगा, आपकी दिनचर्या को एक्टिव बनाएगा और लम्बे समय तक जवान बनाये रखने में मदद करेगा।